NEWS

Corona Virus: क्या चीन ने मांगी अपने 20 हजार मरीजों की हत्या की इजाजत? ये रहा जवाब

चीन में फैले कोरोना वायरस का असर पूरी दुनिया पर पड़ रहा है. भारत और अमेरिका समेत दुनिया के कई मुल्कों ने चीन को इस गंभीर महामारी से निपटने में हर संभव मदद करने की पेशकश की है. चीन में सोमवार तक कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 908 पहुंच चुका है, साथ ही इससे संक्रमण के पुष्ट मामले 40 हजार के पार जा चुके हैं. रविवार को कोराना के संक्रमण से 97  लोगों की मौत हुई है जबकि संक्रमण ने 3062 नए मामले रिपोर्ट किए गए हैं.

चीन से अफवाहों को किया खारिज

इस बीच ऐसी अफवाह भी फैल रही है कि चीन ने अपने 20 हजार कोरोना मरीजों को मारने के लिए कोर्ट से इजाजत मांगी है ताकि इस महामारी पर रोक लगाई जा सके. हालांकि चीन के प्रशासन इसे पूरी तरह खारिज करते हुए सिर्फ झूठ करार दिया और कहा कि चीन की सरकार इस बीमारी से मजबूती के साथ लड़ रही है.

चीन के दूतावास के हवाले से कहा गया है कि कई भारतीय मित्र ऐसी खबरों के लिंक भेज रहे हैं जो कि किसी भी रूप में सही नहीं है. दूतावास ने कहा कि ऐसी अफवाहें फैलाना बंद करें क्योंकि यह सरासर झूठ है. साथ ही चीनी दूतावास की ओर से ऐसे काम गिनाए गए हैं जिनके जरिए कोरोना संक्रमण को रोकने के भरसक प्रयास किए जा रहे हैं.

अमेरिका ने वुहान भेजी मदद

उधर, अमेरिका ने कोरोना वायरस की चपेट में आए चीन और दूसरे देशों को इस संकट से निपटने मदद के लिए 10 करोड़ डॉलर खर्च करने की घोषणा की है. अमेरिका ने दुनिया के अन्य देशों को भी इस संकट से निपटने के लिए आगे आने की अपील की है. अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने एक बयान में कहा, “हम शेष दुनिया से भी अपने प्रतिबद्धता को पूरा करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं,  इस खतरे से निपटने में हम बड़ी भूमिका निभा सकते हैं.”

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा कि अमेरिका से वस्तुओं की एक खेप वुहान पहुंच चुकी है, जोकि इस महामारी का केंद्र और चीन के हुबेई प्रांत की राजधानी है. भारत की ओर से भी चीन सरकार को मदद की पेशकश की गई है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और चीन की जनता से एकजुटता व्यक्त की है. पीएम मोदी ने चीनी राष्ट्रपति को पत्र लिखकर भारत की ओर से सहायता की पेशकश की है.  इसके साथ ही पीएम मोदी ने इस संक्रमण से जान गंवा चुके लोगों के प्रति अपनी संवेदना भी व्यक्त की है. पीएम मोदी ने हुबेई प्रांत से भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए चीन सरकार की ओर से दी गई सुविधाओं के लिए भी जिनपिंग प्रशासन की सराहना भी की है.

Source :

aajtak

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top