HEALTH

बदलते मौसम में अगर बच्चों को हो रहा हो खांसी-ज़ुकाम तो राहत देने के लिए अपनाएं ये घरेलू तरीके

relationship child

बदलते मौसम (Changing weather) में बच्चों को खांसी-ज़ुकाम (Cough and cold) होना आम बात है. इससे निजात दिलाने के लिए पेरेंट्स अगर बच्चों को डॉक्टर के पास न ले जाना चाहें या अंग्रेजी दवा न खिलाना चाहें तो इन घरेलू उपायों को अपना सकते हैं.

बदलते मौसम की वजह से (Due to changing weather) छोटे बच्चों को खांसी-ज़ुकाम (Cough and cold) होना आम  बात है. लेकिन ये दिक्कत बच्चों को परेशान बहुत करती है और उनकी दिक्कत देखकर पेरेंट्स भी काफी परेशान होने लगते हैं. एक ओर खांसी-ज़ुकाम जैसी दिक्कत के लिए पेरेंट्स बच्चे को लेकर डॉक्टर के पास जाना नहीं चाहते तो वहीं बच्चे को अंग्रेजी दवा खिलाने से भी परहेज़ करते हैं. ऐसे में बच्चों को इस दिक्कत से बचाने का सबसे अच्छा तरीका घरेलू उपायों को अपनाना है. तो आइये आज हम आपको छोटे बच्चों की खांसी-ज़ुकाम को दूर करने के लिए (To relieve cough and cold) कुछ घरेलू तरीके बताते हैं.

अजवाइन का पानी

सर्दी-ज़ुकाम से राहत देने के लिए छोटे बच्चे को दो-चार चम्मच अजवाइन का पानी पिलाएं. इसके लिए एक बड़े चम्मच अजवाइन को एक गिलास पानी में अच्छी तरह से पका लें. जब पानी आधा रह जाये तो इसको थोड़ी-थोड़ी देर में दिन में तीन-चार बार बच्चे को पिलाते रहें. बच्चा अगर बड़ा है तो छोटा आधा कप अजवाइन का पानी पिला सकते हैं. इससे परेशानी से राहत मिलेगी.

सर्दी-ज़ुकाम से निजात दिलाने के लिए बच्चे को दूध में हल्दी मिलाकर पिलाएं. इसके लिए दूध में हल्दी डालकर गर्म कर लें और गुनगुना रह जाने पर बच्चे को पिलाएं. अगर इसके लिए कच्ची हल्दी का इस्तेमाल करेंगे और भी बेहतर होगा.

काढ़ा पिलाएं

बच्चे को दिन में कम से कम दो बार काढ़ा ज़रूर पिलायें. अगर बच्चा छोटा है तो एक-दो चम्मच काढ़ा पीने के लिए दें. बच्चा अगर बड़ा है तो छोटा आधा कप काढ़ा पिला सकते हैं. इसके लिए आप बाजार से किसी अच्छी कम्पनी का काढ़ा खरीद कर लाएं. अगर संभव नहीं है तो आप घर पर भी तुलसी, दालचीनी, लौंग, काली मिर्च और अदरक का काढ़ा बना सकती हैं.

स्टीम दिलाएं

स्टीम दिलाने से भी बच्चे को सर्दी-ज़ुकाम से राहत मिलती है. इसलिए बच्चे को कम से कम दिन में एक बार स्टीम दिलाएं. अगर सोने से पहले स्टीम दिलाएंगे तो ज्यादा बेहतर होगा. अगर बच्चा स्टीम नहीं लेता है या आपको डर है कि पानी न गिरा दे तो इसके लिए पानी का बर्तन या वेपोराइजर यानी भाप लेने की मशीन को ज़मीन पर रखें और बच्चे को बेड पर पेट के बल लिटा दें. बच्चे का पूरा शरीर बेड पर रहने दें और उसका चेहरा बेड के किनारे से बाहर की ओर रखें. बच्चे को अच्छी तरह से पकड़ लें जिससे वो गिर न जाये. इससे स्टीम उस तक आसानी से पहुँच जाएगी.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top